डॉ. भारती कश्यप ने फेमटो लेजर सर्जरी से मोतियाबिंद सर्जरी और पुतली के रिपेयर पर प्रकाश डाला

जमशेदपुर: 17 मार्च 2019: डॉ. भारती कश्यप, चेयरमैन साइंटिफिक कमिटी, झारखण्ड ओफ्थाल्मोलॉजिकल सोसाइटी ने फेमटो लेजर सर्जरी से मोतियाबिंद सर्जरी और पुतली के रिपेयर पर प्रकाश डाला.

डॉ. भारती कश्यप, चेयरमैन साइंटिफिक कमिटी, झारखण्ड ओफ्थाल्मोलॉजिकल सोसाइटी ने सर्जिकल विडियो के माध्यम से बताया की किस तरह छोटी हुई पुतली में हुक का इस्तेमाल कर मोतियाबिंद सर्जरी के नतीजो को हम बेहतर बना सकते है.

इमेज गाइडेड सिस्टम के साथ फेमटो लेजर सर्जरी मोतिया बिंद पद्धति अभी तक का विश्व का सबसे सुरक्षित एवं सटीक मोतियाबिंद सर्जरी की पद्धति है. खासकर के एसे मरीज जो प्रीमियम लेंस प्रत्यारोपण कराते है जैसे हाई सिलेंडर पॉवर के लिए टोरिक लेंस या विना चश्मे के मध्यांतर एवं नजदीक की रौशनी के लिए जो मल्टीफोकल लेंस या एक्सटेंडेड डेप्थ ऑफ़ विज़न लेंस लगवाते हैं उनके लिए यह पद्धति बहुत ही सटीक रिजल्ट देने वाला है. यह पद्धति ब्लेड से डरने वाले मरीजों, अस्थमा, हिमोफिलिया, हृदय रोग एवं मधुमेह के रोगियों के लिए भी बहुत सुरक्षित है.